12. ऋषभ पंत की जीवनी| Best Rishabh Pant Biography in Hindi.

ऋषभ पंत की जीवनी| Best Rishabh Pant Biography in Hindi.

ऋषभ पंत की जीवनी| Best Rishabh Pant Biography in Hindi.
Best Rishabh Pant Biography in Hindi.

ऋषभ पंत(Rishabh Pant) भारतीय टीम के एक उभरते हुए सितारें है| भारत के इस युवा क्रिकेटर ऋषभ पंत(Rishabh Pant) का जन्म 4 अक्टूबर,1997 में हरिद्वार, उत्तराखंड  में हुआ| इनके पिता का नाम राजेंद्र पंत(Rajendra Pant) है और माता जी का नाम सरोज पंत(Saroj Pant) है|

कुछ समय बाद इनके पिता जी का देहांत हो गया था| जिसके कारण इनकी माता जी ने ऋषभ पंत और इनकी बहन साक्षी पंत(Sakshi Pant) की परवरिश की|

इनका पैतृक निवास पिथौरागढ़ जिले के गंगोलीहाट तहसील के पाली नामक गाँव में है| यह केवल 19 साल के है परन्तु इन्होंने अब तक अपना हुनर क्रिकेट के सभी फॉर्मेट के दिखा दिया है|

ऋषभ पंत को भविष्य का एडम गिलक्रिस्ट भी कहा जाता है| वह एडम गिलक्रिस्ट को अपना Role Model मानते है| यह बल्लेबाजी के साथ-साथ विकेट कीपिंग भी करते है| यह अपनी ताबड़-तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाने जाते है| यह दिल्ली की टीम की तरफ से घरेलु क्रिकेट खेलते है|

2016 के Under-19 विश्व कप  के लिए उन्हें भारत की तरफ से खेलने के लिए नामित किया गया था| इस टूर्नामेंट के दौरान इन्होने 18 बॉल में 50 रन बनाये और अपना अर्धशतक पूरा किया और सबका दिल जीत लिया और साथ ही साथ उस टूर्नामेंट में सबसे तेज अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया|

इन्होंने अपने करियर की शुरुआत 1 फरबरी, 2017 में England के खिलाफ T-20 अंतराष्ट्रीय मैच में किया| इनका टेस्ट डेब्यू 18 अगस्त 2018 को England की टीम के खिलाफ हुआ और इनका एक दिवसीय अंतराष्ट्रीय मैच में डेब्यू 21 अक्टूबर, 2018 को हुआ|

इन्होंने अब तक कुछ ही मैच खेले है परन्तु उन मैचों में अपनी बल्लेबाजी से उन्होंने अपने हुनर को दर्शाया है| बल्लेबाजी के साथ-साथ इन्होने बहुत अच्छी Wicket-Keeping करके भी दिखाई है|

ऐसा कहा जा सकता है की महेंद्र सिंह धोनी के बाद ऋषभ पंत ही भारत टीम के लिए Wicket-Keeping करा करेंगे और साथ में अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी से अपने फैंस के दिलों को जीतते रहेंगे|

ऋषभ पंत की जीवनी| Best Rishabh Pant Biography in Hindi.

पूरा नाम ऋषभ राजेंद्र पंत
उपनाम ऋषभ
निकनेम पंत
जन्म 4 अक्टूबर,सन् 1997
जन्म स्थान हरिद्वार,उत्तराखण्ड(भारत)
उम्र 21 साल
राशि तुला
धर्म हिन्दू
राष्ट्रीयता भारतीय
पेशा भारतीय क्रिकेटर
पिताजी का नाम स्वर्गीय राजेंद्र पंत
माताजी का नाम सरोज पंत
बहन का नाम साक्षी पंत
वैवाहिक स्थिति कुँवारा
रोल मॉडल एडम गिलक्रिस्ट
टीम दिल्ली कैपिटल्स,दिल्ली Under-19
बल्लेबाजी की शैली बायें हाथ से बल्लेबाजी
कोच का नाम तारक सिन्हा
लम्बाई 5 फ़ीट,7 इंच (लगभग)
वजन 65 किलो  (लगभग)
आँखों का रंग काला

ऋषभ पंत का शुरूआती करियर\Rishabh Pant’s early career In Hindi.

ऋषभ पंत(Rishabh Pant) का जन्म उत्तराखंड में  हुआ था| उन्होंने अपनी शुरूआती स्कूली शिक्षा उत्तराखंड से ही प्राप्त की| साल 2005 में ऋषभ पंत अपने पिताजी के साथ दिल्ली आ गए और अपनी आगे की शिक्षा भी इन्होने दिल्ली में ही पूरी की|

ऋषभ के अंदर क्रिकेट के हुनर को देखकर ऋषभ पंत के पिताजी को ऋषभ पंत को दिल्ली की क्रिकेट अकेडमी में ऋषभ का नाम लिखाना पड़ा| वहाँ पर इनके कोच तारक सिन्हा थे|

इस भारतीय खिलाड़ी ने अपने करियर के खातिर ही अपने परिवार को दिल्ली में स्थानांतरित करने के लिए आश्वस्त किया|

ऋषभ पंत(Rishabh Pant) के पिताजी को ऋषभ के क्रिकेट की क्षमता पर पहले से ही विश्वास था| इसलिए वह ऋषभ पंत को दिल्ली लेकर आ गए| ऋषभ पंत जब दिल्ली आये तो उन्होंने कोच तारक सिन्हा को अपना कोच बनने के लिए आश्वस्त किया|

कोच तारक सिन्हा उनकी विकेट- कीपिंग को देखकर बहुत प्रभावित हुए|उन्होंने ऋषभ पंत को विकेट- कीपिंग के साथ-साथ विस्फोटक बल्लेबाजी करने को कहा|

अभी के समय में अंतराष्ट्रीय स्तर पर चयन के लिए केवल अच्छा विकेट-कीपिंग आना ही जरूरी नहीं है बल्कि साथ में अच्छी बल्लेबाजी भी आनी चाहिए|

तारक सिन्हा ने ऋषभ पंत को एडम गिलक्रिस्ट के कई वीडियो दिखाई| और ऋषभ पंत उससे बहुत प्रभावित भी हुए और शुरुआत में थोड़ा-थोड़ा उनकी तरह खेलने की कोशिश भी करने लगे|

उनसे प्रेरित होकर वह एडम गिलक्रिस्ट की तरह विस्फोटक बल्लेबाजी करने लगे| वह लेफ्ट-हैंड बल्लेबाजी के साथ-साथ विकेट- कीपिंग भी करते है| कोच तारक सिन्हा ने बहुत ही अच्छे डंग से ऋषभ पंत को शिक्षित किया और सफल बनाया|

 

यह कई क्लब के लिए खेल चुके है| बाद में यह लाइम लाइट में अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी के लिए आकर्षित हो गए| कुछ समय के बाद इन्हे दिल्ली रणजी ट्रॉफी के लिए चयनित कर लिया गया|

यहाँ पर इन्होंने अपने खेल का बहुत अच्छा प्रदर्शन दिखाया| राहुल द्रविड़ ने इनकी क्रिकेट की क्षमता को समझा और विद्रोही बिहारी भूमिहार ईशान किशन द्वारा Under-19 भारतीय विश्व कप टीम के नेतृत्व के लिए ऋषभ पंत(Rishabh Pant) की सिफारिश की|

इस प्रकार इनका शुरूआती करियर सफल और सीखने लायक रहा|

ऋषभ पंत के अब तक करियर के बारे में\About Rishabh Pant’s career till now in Hindi.

ऋषभ पंत(Rishabh Pant) ने अपने अब तक करियर से बहुत कुछ सिख लिया है| ऋषभ पंत ने अपने करियर की शुरुआत दिल्ली की तरफ से रणजी ट्रॉफी में अक्टूबर,2015 में की| इन्होंने अपना पहला अर्धशतक रणजी ट्रॉफी के दूसरे ही मैच में बनाया|

इसके बाद इन्होंने 23 दिसंबर,2015 को 2015-2016 विजय हज़ारे ट्रॉफी में सूची-A में अपने करियर की शुरुआत की| 2016 Under-19 क्रिकेट विश्व कप के लिए दिसंबर 2015 में भारत के नेतृत्व के लिए नामित किये गए|

बांग्लादेश में साल 2016 Under-19 विश्व कप में ऋषभ पंत ने 267 रन बनाकर भारत के दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए|

इस टूर्नामेंट के दौरान इन्होंने 1 फरबरी,2016 को 18 गेंदो पर अपना अर्धशतक पूरा किया| 6 फरबरी,2016 को दिल्ली डेयर डेविल्स ने ऋषभ पंत को 10 लाख के मूल आधार पर 1.9 करोड़ की बड़ी रकम पर बोली लगाकर अपनी टीम में शामिल कर लिया|

उसी दिन इन्होंने Under-19 विश्व कप में भारत के लिए शतक बनाया और भारत को सेमी-फाइनल में पहुँचाया|

3 मई,सन् 2016 को दिल्ली डेयर डेविल्स के इस प्रतिभाशाली खिलाडी ने अपने पहले मैच गुजरात लॉयंस के खिलाफ 40 गेंदो में 69 रन की पारी खेली|

यह पारी उन्होंने क्विंटन डिकॉक के साथ खेली थी और सही मायने में उन्होंने अपनी विस्फोटक बल्लेबाजी अपने फैंस को दिखाई|

2016-17 सत्र के रणजी ट्रॉफी में महाराष्ट्र के खिलाफ एक मैच में पंत में 308 रन बनाये|

इससे ऋषभ पंत सबसे कम उम्र के तीसरे और कूल मिलाकर चौथे भारतीय क्रिकेट के खिलाडी बन गए, जिन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में तिहरा शतक लगाया हो|

8,नवम्बर 2016 को इन्होंने झारखण्ड के खिलाफ रणजी ट्रॉफी में 48 गेंदो में शतक लगाकर अपने नाम एक रिकॉर्ड बना दिया| इनके इस प्रदर्शन से इनके फैंस की संख्या भी बढ़ गयी|

उन्होंने रणजी  ट्रॉफी के उस टूर्नामेंट में केवल 5 मैचों में 44 छक्के लगाए| सन् 2017 में उन्हें फरबरी में चल रही टी-20 श्रृंखला में बुलाया गया और इस तरह से ऋषभ पंत के अंतराष्ट्रीय करियर की शुरुआत हुई|

टी-20 में अपना हुनर दिखाने के बाद इन्हे 18 अगस्त,2018 को इंग्लैंड के खिलाफ अपना पहला टेस्ट मैच खेलने को मिला और इस तरह उनके टेस्ट मैच के सफर में शुरुआत हुई|

इसके बाद टेस्ट मैच में उनकी क्षमता देखने के बाद उन्हें अपना पहला एक-दिवसीय अंतराष्ट्रीय मैच खेलने का मौक़ा भारत में ही 21 अक्टूबर, 2018 को वेस्ट-इंडीज टीम के खिलाफ खेलने का मौका मिला|

इस  तरह इन्होंने अब तक अपने अंतराष्ट्रीय स्तर पर खेलने के लिए मिले मौकों से लोगों को अपनी बल्लेबाजी से प्रभावित किया और साथ में अपनी शानदार विकेट-कीपिंग से लोगों के दिलों को जीत लिया| तो इस तरह से ऋषभ पंत का अब तक अंतराष्ट्रीय करियर रहा|

ऋषभ पंत का आईपीएल करियर\Rishabh Pant’s IPL career In Hindi.

ऋषभ पंत की शानदार बैटिंग को देखते हुए दिल्ली डेयर डेविल्स की टीम ने साल 2016 के ऑक्शन में ऋषभ पंत को 1.9 करोड़ की बड़ी बोली लगाकर ऋषभ पंत को ख़रीदा|

उन्होंने अपने अब तक के करियर में बहुत रनों की बारिश कर दी है| ऋषभ पंत ने साल 2016 से 2018 तक 35 मैचों में 1085 रन बनाये है जिसमें इन्होंने 6 अर्धशतक और 1 बेहतरीन शतक लगाया था|

ऋषभ पंत का अब तक का करियर का सर्वाधिक स्कोर 128 रनों का है, यह पारी इन्होंने साल 2018 में सनराइज़र्स हैदराबाद के खिलाफ खेली थी और सबका मन-मोह लिया था|

जीत की उम्मीद लगा रखी थी

नजर टीवी पर टिका रखी थी,

दुआओं की क़तार लगा रखी थी

जीत तो इंडिया की होनी थी,

क्यूंकि सीरीज आईपीएल की

चला रखी थी

ऋषभ पंत(Rishabh Pant) के बारे में जानने योग्य कुछ महत्वपूर्ण रोचक तथ्य-

  1. ऋषभ पंत के नाम अंडर-19 विश्व कप में सबसे तेज अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड है| इन्होंने यह अर्धशतक 18 गेंदो में बनाया था|
  2. साल 2018 में 8 नवम्बर को रणजी ट्रॉफी में सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया| ऋषभ पंत ने यह शतक झारखण्ड के खिलाफ बनाया था|
  1. भारतीय टीम के टी-20 मैच खेलने वाले सबसे युवा बल्लेबाज है| 18 साल 80 दिन की उम्र में इन्होंने अपना पहला मैच खेला था|
  1. आईपीएल करियर के तीसरे मैच में 40 गेंद में 69 रनों की पारी गुजरात लायंस के खिलाफ खेली|
  1. ऋषभ पंत ने विजय हज़ारे ट्रॉफी में 2016-17 में  गौतम गंभीर के जगह कप्तानी की|
  1. आईपीएल करियर में 1000 रन बनाने वाले सबसे युवा बल्लेबाज है| यह रिकॉर्ड इन्होंने 20 साल 18 दिन में पूरे करके हासिल किया|
  1. 2016-17 रणजी ट्रॉफी में 308 रनों का विशाल स्कोर बनाकर तिहरा शतक जड़ा| और इसके साथ भारत के तिहरा शतक लगाने वाले तीसरे सबसे युवा खिलाडी बन गए|
  1. 2017-18 सत्र में टी-20 क्रिकेट दूसरा सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया| इन्होंने यह शतक 32 गेंदो में बनाया था जो किसी भारतीय द्वारा सबसे तेज टी-20 शतक हैं|
  1. ऋषभ पंत 2018 नीलामी से पहले ही दिल्ली डेयर डेविल्स द्वारा रिटेन किये गए तीन खिलाडी में से एक थे|
  1. दिल्ली डेयर डेविल्स के लिए साल 2018 में शतक लगाने वाले पहले भारतीय थे| उनहोंने यह शतक सनराइज़र्स हैदराबाद के खिलाफ बनाया था|
  2. आईपीएल 2018 में शतक लगाने वाले तीसरे खिलाडी थे और पहले भारतीय थे|
  1. टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले पाँचवे सबसे कम उम्र के भारतीय बल्लेबाज है| इन्होंने 20 साल,318 दिनों में ही अपना टेस्ट मैच में डेब्यू किया|
  1. ऑस्ट्रेलिया में शतक लगाने वाले पहले भारतीय विकेट-कीपर बल्लेबाज है| उनहोंने सिडनी में 4 अगस्त,2018 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 159 रनों की नाबाद पारी खेली थी|
  1. ऋषभ पंत ने अपने पहले ही मैच में सबसे ज्यादा कैच पकड़ने का रिकॉर्ड बनाया| उन्होंने कूल सात कैच पकडे और दुनिया के ऐसे कहते विकेट-कीपर बन गए|
  2. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गयी 159 रनों की  पारी किसी भी भारतीय खिलाड़ी द्वारा खेली गयी सबसे बड़ी पारी है| इन्होंने पूर्व विकेट-कीपर महेंद्र सिंह धोनी  का 148 रनों के स्कोर को तोडा था|

“ जीतने का मजा तभी आता हैं, जब हारने का डर हो ”

 

ऋषभ पंत की जीवनी| Best Rishabh Pant  Biography in Hindi.

Facebook –  Click Here

Twitter –  Click Here

Instagram – Click Here

दोस्तों, ‘आपको हमारा यह आर्टिकल ऋषभ पंत की जीवनी| Best Rishabh Pant  Biography in Hindi. कैसा लगा आप हमें कमेंट करके बताए और हमारे इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करना ना भूले|

Follow Us 

Facebook :– Click Here

Twitter :– Click Here

Instagram :–  Click Here

Thanks for Reading
Sanjana Singh


यह भी पढे:- Click Here