जीतने के बाद भी कैसे हारी ममता बनर्जी| Mamta Banerjee lost even after winning in Hindi

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कॉंग्रेस ने जीत की हैट ट्रिक लगा दी हैं| चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार टीएमसी को 200 से ज्यादा सीट मिल चुकी है|

वही बीजेपी 76 सीटों तक सिमट गई है| ममता बनर्जी राज्य में एक बार फिर सरकार बना रहीं हैं,

यह बात 2 मई, रविवार को बिल्कुल साफ हो चुकी है|

 

ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी के बीच था नंदीग्राम विधान सभा सीट का मुकाबला-

चुनाव नतीजों के बीच जिस सीट ने सबसे ज्यादा उलझाए रखा, वह थी नंदीग्राम विधान सभा सीट| बंगाल चुनाव की यह सबसे हाई प्रोफाइल सीट पर देर रात तक वोटों की गिनती जारी रहीं|

इस सीट पर सीधा मुकाबला ममता बनर्जी और कभी उनके सहयोगी और बाद में बीजेपी मन शामिल हुए शुभेंदु अधिकारी के बीच था|

शुभेंदु अधिकारी ने जीता नंदीग्राम विधान सभा सीट-

कई दौर की गिनती के बाद देर रात चुनाव आयोग ने 1956 वोटों की बढ़त के साथ शुभेंदु अधिकारी की जीत का ऐलान किया|

लेकिन इस जीत से पहले नंदीग्राम सीट पर कई बार उतार-चढाव देखने को मिला| कभी एक पल लगता की ममता बनर्जी यहाँ से जीत गयी हैं|

तो थोड़ी ही देर बाद खबर आती है कि शुभेंदु आगे है और वो अपनी जीत का ऐलान कर रहे हैं| चुनाव आयोग ने भले ही नंदीग्राम का नतीजा देर रात को दिया|

टीएमसी और बीजेपी की तरफ से अपनी-अपनी जीत के दावे बार-बार होते रहे-

सबसे पहले टीएमसी की तरफ से यह दावा किया गया कि ममता बनर्जी 1200 वोटों के अन्तर से जीत गयी है| इस खबर को कई मीडिया चैनल में बताया गया|

लेकिन थोड़ी ही देर में एक और खबर आई कि अभी वोटों की गिनती चल रही है| अभी नतीजे नहीं आए हैं| दोपहर रात खबर आई कि शुभेंदु अधिकारी 1600 वोटों के अन्तर से जीत गए है|

बीजेपी के कई बड़े नेताओं ने उन्हें बधाईयाँ देना शुरू कर दी| इस बीच ममता बनर्जी का भी एक ट्वीट आया| जिसमें ऐसा लगा कि वो नंदीग्राम सीट पर अपनी हार स्वीकार कर रहीं हैं|

लेकिन कहानी में फिर एक मोड़ आया और खबर आई कि चुनाव आयोग अभी भी वोटों की गिनती कर रहीं हैं| यानी कुछ राउन्ड को वोटिंग अभी बाकी है|

दिन ढलते-ढलते सबको नजरें नंदीग्राम पर टिक गई| चुनाव का नतीजा सबके सामने था| ममता बनर्जी बंगाल का चुनाव जीत चुकी थी| बीजेपी अपने 200 पार के आंकड़े से पीछे रह गए|

नंदीग्राम विधान सभा सीट के लिए सस्पेंस बना रहा-

नंदीग्राम सीट ये किसके हक में जाएगी ये सस्पेंस में रहा| हालाँकि रविवार का दिन खत्म होते-होते नंदीग्राम का नतीजा भी सामने आ गया और चुनाव आयोग ने वहाँ से शुभेंदु अधिकारी को विजेता घोषित किया|

ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी को कितने-कितने वोट मिले-

चुनाव आयोग के वेबसाइट पर दिए गए नंदीग्राम के अंतिम परिणामों पर नजर डाले, तो शुभेंदु अधिकारी के खाते में 1,10, 764 मत पड़े और ममता बनर्जी के खाते में 1,08, 808 वोट मिले|

वोट शेयर की बात करे तो ममता बनर्जी के पास 47.64 प्रतिशत मत तो वहीं शुभेंदु अधिकारी को 48.49 प्रतिशत वोट मिले| यानी इन दोनों के बीच एक प्रतिशत का अन्तर था|

तृणमूल कांग्रेस ने नंदीग्राम विधान सभा सीट की दोबारा गिनती की माँग भी की| लेकिन इस माँग को चुनाव आयोग की तरफ से खारिज कर दिया गया|

नंदीग्राम में हार मिलने के बाद ममता ने कहा कि वह कोर्ट जाएंगी-

ममता ने नंदीग्राम विधान सभा सीट के वोटों की गिनती के दौरान गड़बड़ी और अनियमितताओं का आरोप भी लगाया और कहा है कि वो चुनाव आयोग के रवैया के खिलाफ कोर्ट का दरवाजा खटखटायेंगी|

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग के खराब रवैये के खिलाफ हम कोर्ट जाएंगे|

जीत के बाद शुभेंदु अधिकारी ने क्या कहा-

जीत के बाद शुभेंदु अधिकारी ने कहा- प्यार, विश्वास, आशीर्वाद और समर्थन प्राप्त करने और मुझे अपना प्रतिनिधि चुनने के लिए, नंदीग्राम की जनता का आभार|

मैं सेवा करने और उनके कल्याण के लिए काम करते रहने का वादा करता हूँ| मैं आपका आभारी हूँ|

दोस्तों, ‘ आपको हमारा यह आर्टिकल  जीतने के बाद भी कैसे हारी ममता बनर्जी| Mamta Banerjee lost even after winning in Hindi कैसा लगा? आप हमें कमेंट करके बताए और हमारे इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करना ना भूले|

Facebook Page- https://www.facebook.com/achhibate94/

Twitter Page-  https://twitter.com/achhi_bate

Instagram Page- https://www.instagram.com/achhibate/

Thanks For Reading
By Sanjana Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *