जो हैं उसमे खुश रहो| Life Happiness Best Story in Hindi.

जो हैं उसमे खुश रहो| Life Happiness Best Story in Hindi.

 

जो हैं उसमे खुश रहो| Life Happiness Best Story in Hindi.
जो हैं उसमे खुश रहो| Life Happiness Best Story in Hindi.

दोस्तों  किसी महान पुरुष ने बड़े ही महान बात कही थी, इस दुनिया में अपनी तकदीर खुद ही लिख नहीं होगी|
यह कोई चिट्ठी नहीं कि किसी दूसरे से लिखवा लो आपके लिए एक छोटी सी कहानी यह कहानी एक महिला की है|

जिसके पति की यंग एज में मृत्यु हो गई थी और अब परिवार में बची थी दो बेटियां जिनको बड़े प्यार से पाला पोसा गया बेटियां बड़ी हुई|

तो उनको उनकी पसंद से शादी करवा दी और वह दोनों बेटियां बिजनेस करके अपने परिवार को चला रही थी|
उनके पति थोड़ा कम कमाते थे|

एक बेटी थी जो छाते का बिजनेस करती थी और दूसरी बेटी नूडल्स का बिजनेस करती थी|

दोनों हिस्से में काम करती थी सब कुछ ठीक चल रहा था|
यह जो मां थी अपनी दोनों बेटियों से बराबर का प्यार करती थी|
कभी उनके यहां चली जाती कभी इनके यहां चली जाती|

बेटियां भी अपनी मां से बहुत प्यार करती थी|
एक दिन यह जो मां थी खूब जोर से रोने लगी उस दिन खूब तेज की धूप निकली हुई थी|
मां को रोना आ रहा था वह अपनी उस बेटी को याद करके रो रही थी|

जिसका छाते का बिजनेस था कुछ दिनों से अच्छा नहीं चल रहा था|
वह मां ऊपर वाले को कोस रही थी कि आप बारिश क्यों नहीं करते बारिश हो जाएगी तो लोग छात्र खरीदना शुरू कर देंगे|

मेरी बेटी का जो धंधा है|
वह मंदा पड़ गया मेरी बेटी के पास ज्यादा पैसे नहीं आ रहे हैं|
उसका परिवार कैसे चलेगा पता नहीं कैसे चमत्कार हुआ ऊपर वाले ने सुन ली बारिश शुरू होने लगी|

काले बादल आने लगे आसमान में जमकर के बरसात हुई और उस महिला को लगा कि भगवान ने मेरी सुन ली अब जो मेरी बेटी जिसका छाते का बिजनेस है|

अब वह अच्छा चलेगा उसे छाते बिकने लगेंगे और मेरी बेटी के पास पैसे आने लगे गे वह मां के चेहरे पर छोटी सी मुस्कान आई थी|

कि अचानक से उदास हो गई और वापस आसमान में देख के कहने लगी कि ऊपर वाले यह अन्याय अपने मेरी दूसरी बेटी के साथ यह क्या कर दिया|

अब वह धूप में नूडल सेवई कैसे सुखआएगी नहीं तो बिकेंगे कैसे??

वो तो गीले रह जाएंगे मेरी दूसरी बेटी के बारे में तो सोचो ऊपर वाले को फिर से कोसने लगी|

अब यह रोजाना गया का रूटीन हो गया था|
जिस दिन बारिश होती उस दिन कहते कि धूप नहीं निकल ली और अपनी दूसरी बेटी के लिए जिस दिन धूप निकलती उस दिन कहती थी|

बारिश नहीं हो रही मेरे दोनों बेटियों का ध्यान कौन रखेगा दोनों बेटियों के धंधे मन देना पड़ जाए इसलिए बार-बार यही प्रार्थना कर रही होती थी|

पड़ोसी जो थे वह यह कहते थे कि यह अम्मा पागल तो नहीं हो गई है|
लोगों ने उनका नाम रख दिया कि यह हमेशा चिड़चिड़ी ररहती हैं|

रोती रहती हैं लोग उन्हें रोती अम्मा कहने लगे एक बार एक बाबा जी वहां से गुजर रहे थे और यह जो अम्मा है वहां बैठ कर हमेशा की तरह ऊपर आसमान मैं देख कर रो रही थी|

बाबा जी ने पूछा कि यह रो क्यों नहीं है लोगों ने कहा बाबा जी को कि आप इनके चक्कर में ना पड़े वह तो हमेशा रोती रहती हैं|

आप अपने रास्ते जाइए फिर भी बाबाजी दयालु होते हैं|
उनको लगा कि एक बार इनकी सुनता हूं की बात क्या है?

जैसे ही इन अम्मा के पास जा कर बैठे यह अम्मा बताने लगी की उनकी जो बेटी है|

उसका छाते का बिजनेस है वो धंधा मंदा पड़ने लगता है|
तो
मैंने ऊपर वाले से प्रार्थना की बारिश हो जाए बरसात खूब जोर से होने लगी और फिर मुझे दूसरी बेटी की याद आई जिसका नूडल्स सेवई का बिजनेस था|

अब वह गिले रह जाएंगे तो वो सूखेगे कैसे??

उसका बिजनेस कैसे चलेगा बाबा जी ने जो कहा वो ध्यान से सुनिएगा यह तो आसान कार्य है|

जिस दिन आसमान में बादल हो बरसात होने लगे|
उस दिन आप उस बेटी के बारे में सोचिए जिसका छाते का काम है|

उस दिन आप यह सोच कर खुश रहिए कि आप की पहली बेटी के पास तो पैसा आ रहा है|

उस दिन आप अपनी दूसरी बेटी के बारे में मत सोचिए और जिस दिन धूप निकली हो उस दिन अपनी उस बेटी के बारे में सोचिए|


जिसका नूडल्स का बिजनेस है उस दिन उस बेटी के बारे में मत सोचिए जिसका छाते का बिजनेस है|

तो यह आप यह काम शुरू करिए उस दिन आपका रोना बंद हो जाएगा|

ऊपर वाले से आपकी सारी शिकायत खत्म हो जाएगी बाबा जी ने जब यह कहा तो अम्मा जी को अपने आप सारी बात समझ आ गई जो करना है|

जिंदगी में वह आज करना है और आज ही करना है जो आज मिला उसमें जीना शुरू कीजिए कल की चिंता बंद करके जीना सीखिए|

यह छोटी सी कहानी यह बताती हैं कि कभी आपके जिंदगी में खुशियां आयेगी, तो कभी आपकी जिंदगी में गम आएंग, लेकिन आप उनके लिए तैयार रहिए  और उनका डटकर सामना करिए|

दोस्तों, ‘ आपको हमारा यह आर्टिकल जो हैं उसमे खुश रहो| Life Happiness Best Story in Hindi.

कैसा लगा? आप हमें कमेंट करके बताए और हमारे इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करना ना भूले|

Facebook –Click Here

Twitter – Click Here  

Instagram – Click Here

Thanks
 Sanjana Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *