कामयाबी तो दूसरों की सेवा में ही है। Success Motivational Story in Hindi.


कामयाबी(Success),मन का सुकून| The Real Success in Life.


आज के समय में सभी लोग जल्दी से जल्दी कामयाबी(Success) पाना चाहते हैं। लेकिन अगर किसी से पूछा जाए कि उसके लिए कामयाबी का क्या मतलब हैं। तो हर कोई अपनी अपनी राय देगा क्योंकि हर किसी के लिए कामयाबी के अलग अलग मायने हैं| कामयाबी Succes motivational story in hindi

कोई इंजीनियरिंग ,डॉक्टर, वकील आदि बनना चाहता है तो कोई दूसरा बड़ा पद पा कर पैसा ,ताकत और प्रसिद्धि पाना चाहता हैं। कोई खूब सारा पैसा चाहता है। कोई सरकारी नौकरी चाहता हैं।तो कोई प्रतिदिन 8 घंटे की नौकरी कर वापस घर आ कर सुकून की जिंदगी चाहता हैं। और दुनिया में ऐसे कई लोग हैं| जिन्होंने अपनी मेहनत से खूब सारा पैसा और नाम कमाया और बहुत खुश भी हैं| लेकिन जिंदगी के उस मोड़ पर जब उन लोगो के पास पैसा ,नाम, शोरहत सब हैं| फिर भी कहीं न कही उनके मन में खालीपन सा रहता है|और इस खालीपन को कोई पैसा नही भर सकता है। इस खालीपन को भरने के लिए लोग अपना अधिकाशं समय समाज सेवा और दूसरों की मदद में लगा देते है।

मदद करने में केवल धन की जरुरत नहीं होती हैं,
उसके लिए केवल एक अच्छे मन की जरुरत होती हैं

आज के समय में कई ऐसे युवा जो मल्टीनेशनल या किसी बड़ी कंपनी में आकर्षक पैकेज पर काम करने के बजाए अपने मन के काम की तलाश में लगे हुए हैं। जैसे

1. कोई लोगो के बीच रह कर चिकित्सा सुविधा मुहैया करा रहा हैं|

डॉ  भोगराजु रमना रॉव (Dr Bhogaraju Ramana Rao)
गरीबों का मसीहा (Well wisher)-कई सालों से गरीबों का मुफ्त इलाज़ करना और खाना देना|

2. कोई बेजुबान जानवरों के लिए काम कर रहा हैं|

एरिका, जिम और क्लेयर अब्राम(Erika, Jim and Claire Abrams)
पशु चिकित्सा मदद (Animal Aid Unlimited)-आसहाय और बीमार जानवरों की मदद करना|  

3.कोई गरीबों कम पैसो में खाना खिला रहा हैं।

अनूप खन्ना (Anoop Khanna)
दादी की रसोई (Dadi Ki Rasoi)-5 रूपये में गरीबों को खाना और 10 रूपये में कपड़े| 

4. कोई गरीब बच्चों को पढ़ा रहा है। 

रौशनी मुखर्जी (Roshni Mukherjee)
एग्जामफियर(Examfear)-कक्षा 6 से लेकर 12 के बच्चों को मुफ़्त में ऑनलाइन शिक्षा | 

इसी प्रकार बहुत सारे लोग हैं जो अलग अलग क्षेत्र में समाज सेवा कर रहे हैं| और ये सब वो लोग होते जिन्हें इन सब काम के बदले किसी चीज की अपेक्षा नही होती हैं। ना किसी पैसे की औऱ न ही प्रशंसा की। बस अपने मन की खुशी और दूसरों के चेहरे पर हँसी ही उनके लिए सबसे बड़ा पुरुस्कार होता हैं।

कामयाबी के दौर जब सब पैसा और प्रतिष्ठा पाने के लिए दौड़ लगा रहे वही ऐसे लोग भी हैं जो दूसरों की मदद के लिए तन मन धन से लगे हुए और किसी मिसाल से कम नही हैं।किसी गरीब ,दुखी या जरूरतमंद को देख कर अपने जीवन की दिशा बदल कर इन लोगो को अपनी बिल्कुल भी फिक्र नही होती कि लोग क्या बोलेंगे बस उन्हें जिस काम में खुशी मिलती वो ही काम करते हैं।

“यदि आप सौ लोगों की सहायता नहीं कर सकते तो केवल एक की सहायता कर दीजिये ”

सही मायने में यही वो लोग हैं| जो स्वामी विवेकानंद के रास्ते पर चल रहे हैं और जरूरतमंदों की मदद को ही सच्ची खुशी मानते हैं।इस लेख के माध्यम से हम आपको उन लोगों से मिलवाएँगे जिनके लिए कामयाबी का मतलब सिर्फ पैसा और नाम नही हैं। और अपने मन की आवाज़ सुनते हैं और बिना किसी परेशानी के दूसरों की मदद में लगे रहते हैं। यहाँ तक कि इनके काम से प्रभावित होकर अन्य लोग भी बढ़ चढ़कर उनकी मदद करते हैं।

हमारा देश आत्मनिर्भर हो रहा है दुनिया में अपनी अलग पहचान बना रहा हैं। लेकिन साथ साथ हमें अपने सामाजिक स्तर को भी ऊपर उठना पड़ेगा और जरूरतमंद लोगों की मदद करनी होगी ताकि वो लोग भी अपने जीवन में आगे बढ़ सके।इसके लिए हमे सबसे पहले अपने स्वार्थपन को भूलकर नई सोच के साथ आगे बढ़ना होगा।

पैसा कामयाबी नहीं हैं, असली कामयाबी तो मन की संतुष्टि हैं 

जब सभी लोग पूरी तरह से खुशहाल होंगे
तभी हम दुनिया में अपना सिर ऊँचा कर सकेंगे।

यह भी पढ़े –

1.
2.
3.
4.
5.

हमारे अन्य ब्लॉग भी पढ़े –

Facebook     Twitter    Instagram

One thought on “कामयाबी तो दूसरों की सेवा में ही है। Success Motivational Story in Hindi.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *