विश्व हेलोवीन दिवस| World Festival Halloween Day in Hindi.

 


Halloween day or Festival- Why and how the Halloween day celebrates?


 

Halloween day .festival

हेलोवीन दिवस या हेलोवीन त्यौहार एक प्रकार का अवकाश हैं जो हर साल 31 अक्टूबर को मनाया जाता हैं | हेलोवीन दिवस का मतलब मृतकों आत्माओं के उठने का दिन होता है| जिनके घर में बड़े – बुजुर्ग, या कोई अन्य इंसान मर जाते हैं तो इस दिन उन सभी लोगों की आत्मा धरती पर आती हैं |

हेलोवीन दिवस क्यों मनाया जाता है ?

हेलोवीन दिवस पश्चिमी देशों में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता हैं | इस त्यौहार को सभी लोग अपने – अपने तरीके से बनाते हैं और बच्चो के लिए यह दिन अपने रिश्तेदारों और पडोसी से चोकलेट मांगने का दिन होता हैं | सभी बड़े लोग इस दिन अपने पूर्वजो की आत्मा की शांति के लिए पूजा व प्राथर्ना करते हैं |

आमतौर पर लोग त्यौहार पर सजते हैं और नए कपडे पहनते हैं , लेकिन यह त्यौहार कुछ अलग हैं | इस त्यौहार पर लोग अपना डरावना जैसा रूप बनाते हैं , आत्माओं और भूत-प्रेतों के तरह मेकअप किया जाता हैं और कपड़ें भी इसी थीम के अनुसार होते हैं |


 हेलोवीन दिवस का इतिहास क्या हैं ? 

ऐसा माना जाता हैं कि लगभग 2000 पहले प्रसिद्ध धार्मिक त्यौहार “आल सैट्स दिवस” पुरे उत्तरीय यूरोप में 1 नवंबर को मनाया जाता हैं लेकिन ऐसा भी माना गया हैं कि हेलोवीन का इतिहास प्राचीन सेल्टिक त्यौहार है , जिसे सम्हैन कहा हैं | इस दिन गैलिक परम्पराओं को मानने वाले इस त्यौहार को मनाते हैं और ये फसल के मौसम का आखिरी दिन होता हैं और इसी दिन से ठंड का मौसम भी शुरू हो जाता हैं |

वे इस बात पर ज्यादा भरोसा करते हैं कि इस दिन मरे हुए लोगों की आत्मा उठती हैं और धरती पर प्रकट होकर जीवित इंसानो के लिए परेशानी पैदा करती है | और इन बुरी आत्माओं से  डर को भगाने के लिए यह इंसान उन्ही के जैसे कपड़े पहनते हैं | इसके अलावा अलाव ( आग ) जलाया जाता हैं और मरे हुए जानवरों की हड्डियाँ उसमे फेक दी जाती है |

इसे “ आल सैट्स दिवस ” भी कहा जाने लगा हैं , जोकि 1 नवंबर को मनाया जाता हैं  जोकि मूर्तिपूजकों के परिवर्तन के लिए ईसाई लोगों द्वारा बनाया गया था इस दिन मूर्तियों की पूजा की जाती हैं |  “ आल सैट्स दिवस “ से पहले हेलोस की शाम होती है , जोकि अब हेलोवीन के नाम से जाना जाता हैं | लेकिन कुछ पोप्स ने इसे दूसरे ईसाई से मिलाने की कोशिश की और नतीजा यह निकला की “ आल सेट्स दिवस ” और हेलोवीन दिवस एक दिन मनाया जाता हैं |

क्या हैं हेलोवीन पर लालटेन जलाने के पीछे का राज ?

इस दिन पर लालटेन जलाने की परंपरा हैं | इसके पीछे जैक और शैतान आयरिश लोक कथा मानी जाती हैं|आयरलैंड में जन्मे कंजूस शराबी जैक ने अपने शैतान दोस्त को अपने घर शराब पीने के लाया था लेकिन वो नहीं चाहता था कि उसका पैसा खर्च हो और उसने अपने दोस्त से कहा कि तुम शराब लिया आओ , और इसके बदले मैं तुमको घर में लगा कद्दू ( पम्पकिन )  दे दूंगा और वो उसका दोस्त मान गया और दोनों ने शराब का पीने का मजा उठाया |


जब उसने जैक से कद्दू माँगा तो , वो अपनी बात से मुकर गया | और उसके दोस्त ने गुस्से में आकर कद्दू से डरावनी लालटेन बनाकर , घर के बाहर पेड़ पर टांग दिया ,जिस पर उसके मुँह की नक्काशी की ओर जलते हुए कोयले डाल दिए | तब से ये दूसरों लोगों के लिए एक सबक के तौर पर इस दिन जैक -ओ- लालटेन का चलन शुरू हो गया था | यह उनके पूर्वजो की आत्मा को रास्ता दिखाने और बुरी आत्माओं से बचने का प्रतीक हैं  |

लोग मर के भी नहीं मरते हैं ,वो एक अच्छी या बुरी आत्मा बनकर आते जरूर हैं|

यही बात हेलोवीन दिवस में बतायी गयी हैं|

यह भी पढ़े –

1.
2.
3.
4.
5.

हमारे अन्य ब्लॉग भी पढ़े –

Facebook     Twitter    Instagram

One thought on “विश्व हेलोवीन दिवस| World Festival Halloween Day in Hindi.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *