रविवार को छुट्टियां क्यों होती हैं? Why Holidays On Sunday in Hindi.

भारत की आजादी से पहले जब ब्रिटिश भारत में शासन किया करते थे तब मील मजदूरों कर्मचारी हफ़्तों के सात दिन काम किया करते थे उन्हें कोई छुट्टी का अवसर नही मिलता था |हर रविवार को british अधिकारी चर्च  जा कर प्रार्थना किया करते थे पर मील मजदूरों के लिए ऐसी कोई परम्परा नही थी|

प्रस्ताव को अंग्रेजों के समक्ष रखा

उसी समय श्री नारायणमेघा जी लोखंडे मील मजदूरों के नेता थे|उन्होंने अंग्रजो के सामने साप्ताहिक छुट्टी का प्रस्ताव रखा और अंग्रेजों से कहा सप्ताह में ६(6) दिन काम करने के बाद हमे  सप्ताह में एक दिन समाज और देश की सेवा करने के लिए भी मिलना चाहिए| इसके साथ ही उन्होंने कहा की sunday(रविवार) हिन्दू खंडोवा का दिन हैं इस इसलिए भी sunday को साप्ताहिक छुटटी के रूप में घोषित किया जाना चाहिए. लेकिन अंग्रेजों ने इनके इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया वैसे भी मन जाता हैं अंग्रेज़ भारत पर राज़ करने आए थे न की किसी का प्रस्ताव या अन्य बातों पर ध्यान देने या देश की भलाई के करने के लिए |

सच्चाई की विजय ही होती हैं

लेकिन कहा जाता हैं की जहाँ सच और किसी की अन्य बातों में देश की भलाई  होती हैं तो उसकी जीत आवश्य होती हैं ठीक उसी प्रकार श्री नारायणमेघा जी ने हार नही मानी और वे संघर्ष  करते रहें और संघर्ष जारी रखा अतः ७(7 ) साल के लंबे  संघर्ष के बाद 10 जून १८९० (1890) को british सरकार  ने  sunday को अवकाश का दिन घोषित कर दिया||हेरानी की बात यह हैं की भारत सरकार ने कभी भी इसके बारे में कोई आदेश जारी नहीं किये और न ही कोई action लिया हैं |

अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान.

अन्तर्राष्ट्रीय मानकीय करण  संस्था के  अनुसार रविवार का दिन सप्ताह का आखिरी दिन होता हैं इस बात को १९८६ (1986 ) में लागू किया गया था |१८८४ ( 1884 ) में अंग्रेजों के गर्वनर जनरल ने स्कूल जाने वाले बच्चो के लिए जारी किया जिसका कारण यह भी हैं की बच्चे उस दिन रचनात्मक कार्य के बारे में जान सके और अपने आप को जीवन में आगे बढ़ा सके |

प्राचीन समय में पूजा का शुभ दिन

अन्तः हिन्दू रीतिरिवाज के आनुसार रविवार का दिन सूर्य भगवान का होता हैं इस दिन इनकी पूजा व उपासना करनी चाहिए ऐसा करने से सारा सप्ताह व मन शान्त रहता हैं और किसी प्रकार की परेशानी नही होती हैं| तथा  किसी भी मनुष्य को अपनी इस परम्परा को निभाने में कोई परेशानी न इसीलिए पुनतः काल से ही रविवार को अवकाश का दिन माना जाता हैं जैसे अधिकतर मुस्लिम देशो में इवादत का दिन शुक्रवार का माना जाता हैं इस कारण वहाँ शुक्रवार को ही छुट्टी मिलती हैं | ज्यदातर देशो में रविवार को ही अवकाश का दिन माना जाता हैं इसके पीछे कारण यही था कि उन्हें भी आराम करने के लिए एक दिन चाहिए था और अपने परिवार के साथ थोडा समय बिताने का भी जिससे परिवार के सभी सदस्यों के साथ आपस में ख़ुशी बनी रही | और १८४३ (1883) में अंग्रेजों ने छुट्टी का आदेश निकाला था उसी समय के बाद यह भारत तक पंहुचा था| जिसे भारत ने भी ख़ुशी से स्वीकार किया और रविवार को ही छुट्टी का दिन बनाया रखा |

दोस्तों, ‘आपको हमारा यह आर्टिकल भारतीय स्वतंत्रता दिवस? Happy Indian Independence Day in Hindi. कैसा लगा आप हमें कमेंट करके बताए और हमारे इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करना ना भूले|

Thanks For Reading
Sanjana

यह भी पढ़े –

1.
2.
3.
4.
5.

हमारे अन्य ब्लॉग भी पढ़े –

Facebook     Twitter    Instagram

One thought on “रविवार को छुट्टियां क्यों होती हैं? Why Holidays On Sunday in Hindi.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *