राष्ट्रीय युवा दिवस पर अनमोल विचार| National Yuva Diwas Anmol Vichar in Hindi.

राष्ट्रीय युवा दिवस पर अनमोल विचार और कविता | Yuva Diwas Anmol Vichar And Poem in Hindi.

National Yuva Diwas Anmol Vichar  And Poem in Hindi
युवा दिवस पर अनमोल विचार और कविता


दोस्तों! हमारा आज का आर्टिकल  हैं “युवा दिवस” पर हैं| इस दिन का बहुत बड़ा मह्त्व होता हैं और किसी भी देश के लिए युवा बहुत महत्व रखते हैं| युवा देश का भविष्य होते हैं, आज के समय में युवा शक्ति से ही देश की उन्नति होती हैं| तो आइए, दोस्तों! कुछ ऎसे ही युवा दिवस पर अनमोल विचारों और कविता को पढ़ते हैं और उससे कुछ सीखते हैं| Yuva Diwas Anmol Vichar And Poem in Hindi.

अनमोल विचार-1

जब तक आप खुद पर विश्वास नहीं करते,

तब तक आप भगवान पे विश्वास नहीं कर सकते|

अनमोल विचार-2

उठो जागो और तब तक नहीं रुको,

जब तक लक्ष्य ना प्राप्त हो जाए||

अनमोल विचार-3

मष्तिक की शक्तियाँ सूर्य की किरणों के समान हैं,

जब वो केंद्रित होती हैं, तो चमक उठती हैं||

अनमोल विचार-4

आयु सोचती हैं और जवानी करती हैं||

अनमोल विचार-5

सच कहना बहुत कठिन होता हैं और आज कल के युवा ये क्षमता बहुत ही कम रखते हैं||

अनमोल विचार-6

युवा आसानी से धोखा खा जाता हैं, क्योंकि वह उम्मीद करने में बहुत तेज होता हैं||

अनमोल विचार-7

जवानी में हम सीखते हैं और बुढ़ापे में हम समझते हैं||

अनमोल विचार-8

लगभग हर एक चीज़ जो महान हैं, जो युवाओं द्वारा की गयी हैं||

अनमोल विचार-9

जवानी खुशियों का वादा करती हैं, लेकिन जिंदगी ग़मों की असलियत सामने ला देती हैं||

अनमोल विचार-10

सफेद बालों को रंगने से जवानी वापस नहीं आ जाती||

अनमोल विचार-11

अपनी युवावस्था का आनंद लो, आप इस पल जितने युवा हो, उतना युवा इसके बाद कभी नहीं हो पाओगे||

तो दोस्तों हमारा आज का आर्टिकल विश्व युवा दिवस पर युवाओं के मन में देश के प्रति प्रेम भावना जागरूक करने के लिए बहुत ही खूबसूरत कविता लिखी गयी हैं| किसी भी देश के विकास के लिए युवा बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं| युवा देश की अर्थव्यवस्था को समाले रखते थे| युवा दिवस पर युवाओं को सम्मानित किया जाता हैं|

दोस्तों! तो आइए उस कविता को पढ़ते हैं और उससे कुछ सीखते हैं-

कविता-1

जागो मेरे संगी साथी, जागो हर एक देशवासी,

तुम ही हो जो बना सकता हैं, अपने देश को स्वर्ग,

जागो मेरे संगी साथी, जागो हर एक देशवासी||

तुम क्यों भटक रहे हो, अंधकार में यहां वहां,

तुम क्यों नहीं निकलते, ज्ञान की खोज में,

बस तुम इन भौतिक चीजों के बारे में,

सोचते रह जाते हो, आगे बढ़ो तुम्हारी

इस जहां को जरूरत हैं, जागो मेरे संगी साथी,

जागो हर एक देशवासी|| तुम मत भूलो कि,

तुम उस देश में रहते हो, जहां कई

महापुरुषों ने जन्म लिया, इस समाज के खातिर,

बहुत कुछ हैं किया, तुम में भी वो शक्ति हैं,

अपने आप को जगाओ, जागो मेरे संगी साथी,

जागो हर एक देशवासी||

कविता-2

उठ जाग अब मेरे देश के नौजवान,

तेरे सोने से पूरा जग परेशान,

आलस की आँधी में क्यों खो रहा हैं,

नशे की नींदो में इतना क्यों सो रहा हैं|

तुम्हें ही देश को  बुलंदियों पर लाना हैं,

अपनी काबिलियत से ही इतिहास रचाना हैं,

पर तू तो खुद ही कमजोर हो गया हैं|

न जाने किधर वो तेरा जोर गया,

लगते थे जोश के जो हर बरस मेले,

हो गया सब अपने स्वार्थ में अकेले|

नशे की सरिता में खुद को क्यों डुबो रहा हैं|

अपनी अमूल्य ताकत को यूँही क्यों खो रहा हैं|

अब भी वक्त हैं, जाग कर कुछ कर दिखाने का,

नाम भारत का आसमान में चमकाने का,

देखना नहीं पीछे मुड़कर, जब तक दिखे ना साहिल,

कर जुनून से मेहनत, मिलेगी एक दिन तुझे मंजिल|

वो कबड्डी की महक और कुश्तियों का कोना|

क्यों नशे की जिद्द में तुझे सब खोना हैं|

ताकत और जोश का रच दे फिर से इतिहास|

न तेरी कमजोरी का उड़ाए, दुनिया उपहास|

बहन बेटियों की इज्जत का बन तू रखवाला|

न इनका कर अपमान, बन तू खुद में मतवाला|

तेरी ताकत के किस्से हो हर और, ऐसी ही कर आशा तू,

कर्म कर फिर से जिंदादिली के, ऐसी ही कर अभिलाषा तू|

अब न रहे तू अपनी शक्तियों से अनजान,

उठा शस्त्र अपने बन जा महान|

उठ जाग अब मेरे देश के नौजवान,

तेरे सोने से पूरा जग परेशान|

 

दोस्तों, ‘आपको हमारा यह आर्टिकल युवा दिवस पर अनमोल विचार और कविता| National Yuva Diwas  Anmol Vichar And Poem in Hindi. कैसा लगा आप हमें कमेंट करके बताए और हमारे इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करना ना भूले|

Thanks For Reading
Sanjana

यह भी पढ़े –

 

हमारे अन्य ब्लॉग भी पढ़े –

Facebook     Twitter    Instagram