गणतंत्र दिवस का त्यौहार| Happy Republic Day in Hindi.

गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ/Happy Republic Day in hindi

गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ/Happy Republic Day in hindiगणतंत्र दिवस (Republic Day)भारत का एक प्रमुख पर्व हैं जिसे सभी भारतीय 26 जनवरी को मनाते हैं| इसी दिन 1950 को भारत सरकार अधिनियम 1935 को हटाकर भारत का संविधान लागू किया गया था| एक स्वतंत्र गणराज्य बनने और देश में कानून का राज को  स्थापित करने के लिए संविधान को 26नवंबर 1949 को भारतीय संविधान द्वारा अपनाया गया और 26जनवरी 1950 को इसे लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ लागू किया गया था|

26जनवरी को इसलिए चुना गया था क्योंकि 1930 में इसी दिन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (आई.एन.सी.) ने भारत को पूर्ण राज्य घोषित किया था|

आओ झुककर सलाम करे उनको जिनके हिस्से में ये मुकाम आता हैं, खुशनसीब होता हैं वो खून जो देश के काम आता हैं

गणतंत्र दिवस का इतिहास

1929 को दिसंबर में लाहौर में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का अधिवेशन पंडित जवाहरलाल नेहरू की अध्यक्षता में हुआ जिसमे प्रस्ताव पारित कर इस बात की घोषणा की गयी कि यदि अंग्रेज़ सरकार 26जनवरी, 1930 तक भारत को डोमीनियन का पद प्रदान नहीं करेगी,जिसके तहत भारत ब्रिटिश साम्राज्य में ही स्वशासित एकाई बन जाता,तो भारत अपने को पूर्णतः स्वतंत्र घोषित कर देगा|

26जनवरी ,1930 तक जब अंग्रेज़ सरकार ने कुछ नहीं किया तब कांग्रेस ने उस दिन भारत को पूर्ण स्वतंत्रता के निश्चय की घोषणा की और अपना सक्रिय आंदोलन आरम्भ किया| उस दिन 1947 में स्वतंत्रता प्राप्त करने  तक 26जनवरी गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता रहा| इसके पश्चात् स्वतंत्रता प्राप्ति के वास्तविक 15अगस्त को भारत ने स्वतंत्रता दिवस के रूप में स्वीकार किया गया|

भारत के आज़ाद होने के बाद संविधान सभा की घोषणा हुई और इसने अपना कार्य 9दिसंबर 1947 से आरंभ भी कर दिया| संविधान सभा के सदस्य भारत के राज्यों की सभाओं के निर्वाचित सदस्यों के द्वारा चुने गए थे|

डॉक्टर भीमराव आंबेडकर,जवाहरलाल नेहरू और डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद,सरदार वल्लभ भाई पटेल,मौलाना अबुल कलम आज़ाद आदि इस सभा के प्रमुख सदस्य थे| संविधान निर्माण में कुल 22समितीयां थी जिसमे प्रारूप समिति (ड्राफ्टींग कमेटी) सबसे प्रमुख एवं महत्वपूर्ण समिति थी और इस समिति का कार्य सम्पूर्ण ‘संविधान लिखना या निर्माण करना” था|

प्रारूप समिति के अध्यक्ष विधिवेत्ता डॉ. भीमराव आंबेडकर थे| प्रारूप समिति ने और उसमे विशेष रूप से डॉ. आंबेडकर जी ने 2वर्ष 11माह,18दिन में भारतीय संविधान का निर्माण किया और संविधान सभा के अध्यक्ष डॉ. राजेंद्र प्रसाद को 26नवंबर दिवस  को भारत में संविधान दिवस के रूप में प्रति वर्ष मनाया जाता हैं| संविधान सभा ने संविधान निर्माण के समय कुल 114 दिन बैठक की| इसकी बैठकों में प्रेस और जनता को भाग लेने की स्वतंत्रता थी| अनेक सुधारों और बदलावों के बाद सभा के 308सदस्यों ने 24जनवरी 1950को संविधान की दो हस्तलिखित कॉपियों पर हस्ताक्षर किये| इसके दो दिन बाद संविधान 26जनवरी को पूरे देश में लागू हो गया|

गणतंत्र का अर्थ

गणतंत्र का अर्थ हैं- समुदाय व्यवस्था भारत में ऐसे शासन की स्थापना हुई| जिसमे देश के विभिन्न दलों,वर्गों एवं जातियों के प्रतिनिधि मिलकर शासन चलाते हैं| इसलिए भारत की शासन पद्धति को गणतंत्र की संज्ञा दी गयी हैं और इस दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में सुशोभित किया गया|

26जनवरी का महत्व

26जनवरी के दिन आज़ादी को कायम रखने के लिए देशवासी प्रतिज्ञा करते हैं| वे देश के निर्माण और उत्थान के लिए कृत संकल्प लेते हैं| यह राष्ट्रीय पर्व देश के निवासियों में नया उत्साह,नया उमंग,नया जोश और नया फुर्ती भरता हैं और सभी देशवासी और स्कूल के बच्चे शहीदों को श्रद्धांजलि देते हैं| 26जनवरी के दिन राष्ट्रभवन में कार्यक्रम भी होते हैं| वे देश के सैनिकों,साहित्यकारों और कलाकारों आदि को उनकी उपलब्धियों पर अनेक प्रकार के पुरस्कारों से सम्मानित किया जाता हैं|

26जनवरी की कुछ महत्वपूर्ण जानकारी

. 26जनवरी 1950को 10:18मिनट पर भारत का संविधान लागू  किया गया|

. गणतंत्र दिवस की पहली परेड 1955 को दिल्ली के राजपथ पर हुई थी|

. भारतीय संविधान की दो प्रतियाँ जो हिंदी और अंग्रेजी में हाथ से लिखी गयी|

. पूर्ण स्वराज दिवस (26जनवरी 1930) को ध्यान में रखते हुए भारतीय संविधान 26जनवरी को लागू किया गया था|  

. भारतीय संविधान की हाथ से लिखी मूल प्रतियां संसद भवन के पुस्तकालय में सुरक्षित रखी हुई हैं|

. भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ.राजेंद्र प्रसाद ने गवर्नममैंट हाउस में 26जनवरी 1950 को शपथ ली थी|

. गणतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति तिरंगा फहराते हैं और हर साल 21तोपों की सलामी दी जाती हैं|

. 29जनवरी को विजय चौक पर बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी का आयोजन किया जाता हैं जिसमे भारतीय सेना, वायुसेना और नौ सेना के बैंड हिस्सा लेते हैं| यह दिन गणतंत्र दिवस के समारोह के समापन के रूप में मनाया जाता हैं|

यह भी पढ़े –

1.
2.
3.
4.
5.

हमारे अन्य ब्लॉग भी पढ़े –

Facebook     Twitter    Instagram

One thought on “गणतंत्र दिवस का त्यौहार| Happy Republic Day in Hindi.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *