कभी भी भगवान के लिए अपना विश्वास खोने मत दो| God Faith Inspirational Story in Hindi.

कभी भी अपना विश्वास भगवान के लिए खोने मत दो| God Faith Inspirational Story in Hindi.


Never lose your faith in God. God Faith Inspirational Story in Hindi.
हमें भगवान पर हमेशा विश्वास रखना चाहिये|


कभी भी अपना विश्वास भगवान के लिए खोने मत दो| God Faith Inspirational Story in Hindi.
कभी भी अपना विश्वास भगवान के लिए खोने मत दो God Faith Inspirational Story.

अगर आप हमेशा अपनी ज़िन्दगी से निराश रहते हो तो आपने कभी सोचा हैं कि आप खुश कब रहोगे? हमें ज़िन्दगी में कुछ समय अपनों के लिए भी निकालना चाहिए|

आज हम इस आर्टिकल के माध्यम हम आपको आपकी ज़िन्दगी के महत्व को समझाएँगे| हमें अपनी ज़िन्दगी से कभी भी हार नहीं मानना चाहिए|  

भगवान पर विश्वास रखिये वो किसी ना किसी तरीके से आपकी मदद जरूर करेगा| तो आइए आर्टिकल को पढ़े-

God Faith Inspirational Story-

भगवान के लिए अपना विश्वास- 

एक गरीब परिवार का लड़का गाँव से आकर शहर में सरकारी नौकरी के लिए तैयारी कर रहा था| उस लड़के ने कुछ परीक्षाएँ दे दी थी और कुछ परीक्षाएँ अभी बाकी थी|

एक दिन उसके पास इंटरव्यू के लिए एक कॉल आया जिसके लिए उसे दूसरे शहर में जाना था| लेकिन उस लड़के के पास बिल्कुल भी पैसे नहीं थे|

जब उसने घर में ढूंढा तो मुश्किल से उसे 100 रूपये मिले| क्योकिं उसके सारे पैसे शहर में रहने के किराये और अपनी पढाई में ही ख़त्म हो जाते थे|

उसने पहले से ही दोस्तों से उधार माँग रखा था अगर वह और उधार माँगता तो उसे शर्म आती| अगली सुबह वह हिम्मत करके बस स्टैंड की ओर निकल गया|

लड़के ने सोचा कि रास्ते में कोई जान-पहचान का मिल जाएगा और उससे लिफ्ट लेकर इंटरव्यू देने चला जायेगा|  

जब वह बस स्टैंड पर पहुँचा तो उसे वहाँ पर कोई जान-पहचान का नहीं मिला| टिकट के लिए उसके पास पैसे नहीं थे इसलिए वह बस स्टैंड से बाहर आ गया|

मंदिर में भगवान के सामने –

जब वह बाहर निकला तो उसे एक बड़ा मंदिर दिखाई दिया| उस व्यक्ति ने सोचा ऊपर वाले से ही पूछ लेता हूँ कि  उसे मुझ गरीब से क्या चाहिए|

लड़का मंदिर के अंदर जाता हैं और मंदिर की सीढ़ियों को स्पर्श करता हैं|  फिर भगवान से कहता हैं कि आप ही मुझे अब इस मुसीबत से निकाल सकते हो|

जब वह  मंदिर बाहर आता हैं तो वह देखता हैं कि सामने एक फ़क़ीर बैठा हुआ था| जिसके सामने रखे कटोरे में बहुत सारे पैसे थे|

वह फिर से एक बार मंदिर की ओर देखता हैं और कहता हैं  ” वाह! भगवान क्या कमाल हैं क्योकिं जिसे चाहिए उसे आप दे नहीं रहे हो जिसे नहीं चाहिए उसे आप बहुत कुछ दे रहे हैं|

फ़क़ीर की बात पर विश्वास-

फ़क़ीर सबकुछ सुन लेता हैं और कहता हैं क्या मै तुम्हारी कोई मदद कर सकता हैं? यह सुनकर वह लड़का कहता हैं कि बाबा आप मेरी क्या मदद करेंगे आप तो खुद माँगकर खा रहे हो|

फ़क़ीर ने कहा कि मैं माँगकर नहीं खा रहा हूँ| इस मंदिर में जो भी लोग आ रहे हैं वो इसलिए देकर नहीं जा रहे हैं कि मैं माँग रहा हूँ|

बल्कि इसलिए देकर जा रहे हैं क्योंकि उन्हें पुण्य कमाना हैं| मैं तुम्हारी मदद कर सकता हूँ अब तुम अपनी परेशानी बताओ| उस व्यक्ति ने कहा मुझे इंटरव्यू के लिए जाना हैं और मुझे कम से कम 500 रुपयों की जरुरत हैं| 

फ़क़ीर ने कहा कि तुम मुझसे 500 रूपये ले लो मुझे रुपयों का इतना मोह नहीं हैं| मैं तो बस एक टाइम की रोटी खाता हूँ थोड़ा बहुत बीमार रहता हूँ इसलिए दवाई लानी होती हैं| 

मैं स्वयं शाम में खुद बचे हुए पैसों को मंदिर की दान-पेटी में डाल देता हूँ| लड़का उस फ़क़ीर की बात का विश्वास करके  पैसे ले लेता हैं| 

वह व्यक्ति फ़क़ीर से कहता हैं कि जब मेरे पास पैसे हो जाएंगे तो मैं आपके पैसों को लौटाने आऊँगा| फ़क़ीर कहता हैं कि कोई बात नहीं आ जाना मैं यही बैठता हूँ, मेरा ओर कोई ठिकाना नहीं हैं|

उस व्यक्ति का सिलेक्शन हो जाता हैं-

इसके बाद लड़का इंटरव्यू देने जाता हैं और उसका सिलेक्शन हो जाता हैं| जब वह शाम को अपने घर जा रहा होता हैं तो सोचता हैं कि मैं बाबा को मंदिर में धन्यवाद देते जाऊँगा| उनकी ही वजह से में इंटरव्यू दे पाया जब वह मंदिर के पास पहुँचा तो देखता हैं| 

कि वहाँ का तो नज़ारा ही बदल गया हैं वहाँ लोगों की भीड़ इकट्ठा थी| वह उनसे पूछता हैं कि यहाँ क्या हो गया? तो एक आदमी कहता हैं कि यहाँ एक फ़क़ीर की मौत हो गयी हैं|

जब वह भीड़ को हटाकर उस आदमी के सामने पहुँचा तो देखा कि जिस फकीर ने उसकी मदद की थी| उस  फ़क़ीर की मृत्यु हो गयी थी| 

एक आदमी कहता हैं आज इन्होंने दवाई नहीं ली और इनकी मौत हो गयी शायद इनके पास पैसे नहीं थे| वह लड़का कहता हैं कि वाह भगवान! एक इंसान ने दूसरे की ज़िन्दगी बनाने के लिए अपनी ज़िन्दगी दाँव पर लगा दी|

अब वह लड़का दुखी हो जाता हैं और समझ नहीं पाता हैं कि वो क्या करे? तभी भीड़ में एक और आदमी कहता हैं कि अच्छा हुआ मर गया वैसे भी कोई काम का नहीं था|

कहानी से सबक़- 

दोस्तों, ‘यह छोटी सी Motivational Story हमें दो तरीके की बातें सिखाती हैं|

पहली बात कि हमेशा दूसरों पर विश्वास करो क्योंकि जब हम एक-दूसरे की मदद करेंगे तभी आगे बढ़ पाएंगे| 

दूसरी बात की हमेशा भरोसा रखो क्योंकि जब लगता हैं कि कुछ नहीं हो सकता तब कही ना कही से आपको मदद मिल ही जाती हैं| 

इसलिए सबकी मदद करो और हमेशा भगवान में विश्वास रखो| कभी ना कभी आपकी ज़िन्दगी में भी कोई ऊपर वाला जरूर आएगा|

दोस्तों, ‘आपको हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा आप हमें कमेंट करके बताए| हमारे इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करना ना भूले|

हमारा फेसबुक पेज- Achhibate

Thanks For Reading
Sanjana


यह भी पढ़े –

1.
2.
3.
4.
5.

हमारे अन्य ब्लॉग भी पढ़े –

Facebook     Twitter    Instagram

One thought on “कभी भी भगवान के लिए अपना विश्वास खोने मत दो| God Faith Inspirational Story in Hindi.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *