विश्व बाल श्रम दिवस 12 जून| World Against Child Labour Day 2020 in Hindi.

विश्व बाल श्रम दिवस 12 जून World Day Against Child Labour 2020 in Hindi.
विश्व बाल श्रम दिवस 12 जून World Day Against Child Labour 2020 in Hindi.
विश्व बाल श्रम दिवस 12 जून| World Against Child Labour Day 2020 in Hindi.

दोस्तों, हमारा देश बेहद ही बड़ा हैं और उसमे रहने वालो की जनसंख्या भी अधिक हैं| अकसर देखने और सुनने को मिलता हैं कि दुनियाभर में बच्चों से कम पैसों में काम कराया जाता हैं| जिसको आम भाषा में बाल श्रम या चाइल्ड लेबर कहा जाता हैं| बाल श्रम दिवस के खिलाफ एंटी चाइल्ड लेबर डे या विश्व दिवस बच्चों को एक गरिमापूर्ण जीवन जीने और बाल श्रम से लड़ने के लिए पर्यावरण प्रदान करने का अवसर प्रदान करता हैं| तो आइए दोस्तों, बाल श्रम के बारे कुछ महत्वपूर्ण बाते को जानते हैं|

दोस्तों बाल श्रम दिवस हर साल 12 जून को मनाया जाता हैं|

बाल मजदूरी का मुख्य कारण क्या हैं-

गरीबी बाल मजदूरी का एक मुख्य कारण यह हैं कि गरीब लोग बच्चे तो पैदा कर लेते हैं| लेकिन उनको खाने-पीने से लेकर स्कूल तक का सफर नहीं दे पाते हैं| जिस कारण से उनके बच्चों को बाल मजदूरी करनी पड़ती हैं| दोस्तों हर जगह ऐसा देखने को नहीं मिलता हैं कहीं-कहीं पर बच्चे चुरा कर संगठित अपराध रैकेट उन बच्चों के द्वारा बाल मजदूरी कराते हैं| कुछ, संगठित अपराध रैकेट द्वारा बाल श्रम में मजबूर होते हैं|

बाल श्रम के प्रति जागरूक करने वाले श्लोगन / नारे|

यह दिवस देश को जागरूक करने के लिए बढावा देता हैं-

यह दिवस न केवल बच्चों को बढ़ने और समृद्ध करने के लिए आवश्यक उपयुक्त वातावरण पर ध्यान केंद्रित करता हैं| बल्कि बाल श्रम के खिलाफ अभियान में भाग लेने के लिए सरकारों, नागरिक समाज, स्कूलों, युवाओं, महिलाओं के समूहों और मीडिया से समर्थन प्राप्त करने का अवसर प्रदान करता हैं|

अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) का इसके प्रति इतिहास-

1919 में, सामाजिक न्याय को बढ़ावा देने और एक अंतर्राष्ट्रीय श्रम मानक स्थापित करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) की स्थापना की गई थी| आपको बता दें कि अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के 187 सदस्य राज्य हैं| और इनमें से 186 संयुक्त राष्ट्र के सदस्य भी हैं|

187 वां सदस्य कुक आइलैंड (दक्षिण प्रशांत) हैं| तब से, अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) ने दुनिया भर में श्रम की स्थितियों में सुधार करने के लिए कई सम्मेलनों को पारित किया हैं| यही नहीं, यह मजदूरी, काम के घंटे, अनुकूल वातावरण आदि जैसे मामलों पर भी दिशा-निर्देश प्रदान करता हैं|

इसके अलावा, 2002 में “वर्ल्ड डे अगेंस्ट चाइल्ड लेबर” को इंटरनेशनल लेबर ऑर्गनाइजेशन (ILS) द्वारा कन्वेंशन नंबर 138 और 182 द्वारा प्रोत्साहित किया गया था। 1973 में, ILO सम्मेलन संख्या 138 को अपनाया गया और रोजगार के लिए न्यूनतम आयु पर ध्यान केंद्रित किया गया|

इसका उद्देश्य सदस्य राज्यों को रोजगार की न्यूनतम आयु में वृद्धि करना और बाल श्रम को समाप्त करना हैं| 1999 में, ILO सम्मेलन संख्या 182 को अपनाया गया और इसे “बाल श्रम सम्मेलन के सबसे बुरे रूप” के रूप में भी जाना जाता था| इसका उद्देश्य बाल श्रम के सबसे खराब रूप को खत्म करने के लिए आवश्यक और तत्काल कार्रवाई करना हैं|

बाल श्रम होने के कारण-

बाल श्रम कई कारणों से होता हैं| हालांकि कुछ कारण कुछ देशों में सामान्य हो सकते हैं, कुछ कारण ऐसे हैं जो विशेष क्षेत्रों और क्षेत्रों में विशिष्ट हैं| जब हम देखेंगे कि क्या बाल श्रम पैदा कर रहा हैं, तो हम इसे बेहतर तरीके से लड़ सकेंगे|

सबसे पहले, यह उन देशों में होता हैं जहां बहुत गरीबी और बेरोजगारी हैं| जब परिवारों के पास पर्याप्त कमाई नहीं होती हैं, तो वे परिवार के बच्चों को काम पर लगाते हैं| ताकि उनके पास जीवित रहने के लिए पर्याप्त पैसा हो सके| इसी तरह, यदि परिवार के वयस्क बेरोजगार हैं, तो युवा लोगों को उनके स्थान पर काम करना होगा|

इसके अलावा, विभिन्न उद्योगों का पैसा बचाने वाला रवैया बाल श्रम का एक प्रमुख कारण हैं-

वे बच्चों को किराए पर लेते हैं, क्योंकि वे उन्हें एक वयस्क के समान काम के लिए कम भुगतान करते हैं| जैसा कि बच्चे वयस्कों की तुलना में अधिक काम करते हैं और कम मजदूरी पर भी, वे बच्चों को पसंद करते हैं| वे आसानी से उन्हें प्रभावित और हेरफेर कर सकते हैं| वे केवल अपना लाभ देखते हैं और यही कारण हैं कि वे कारखानों में बच्चों को शामिल करते हैं|

इसके अलावा जब लोगों के पास शिक्षा तक पहुंच नहीं हैं, तो वे अंततः अपने बच्चों को काम पर रखेगें| अशिक्षित केवल एक छोटी अवधि के परिणाम के बारे में परवाह करता हैं यही कारण हैं कि वे बच्चों को काम करने के लिए डालते हैं ताकि वे अपने वर्तमान को जीवित कर सकें|

दोस्तों, ‘आपको हमारा यह आर्टिकल यह विश्व बाल श्रम दिवस 12 जून| World Against Child Labour Day 2020 in Hindi. आप हमें कमेंट करके बताए और हमारे इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करना ना भूले|

यह भी पढ़े- दिवस और त्यौहार

हमारे अन्य ब्लॉग भी पढ़े –

Facebook     Twitter    Instagram