जिंदगी की सच्चाई| Best Motivational Story For Kids in Hindi.

जिंदगी की सच्चाई Best Motivational Story For Kids in Hindi


जिंदगी की सच्चाई Best Motivational Story For Kids in Hindi
जिंदगी की सच्चाई Best Motivational Story For Kids

दोस्तों! आज का हमारा Article इस बात पर हैं कि जीवन में कभी भी अपनी तुलना किसी से नहीं करनी चाहिए|

आज कल के युग में हम सब जानते हैं की हर कोई किसी न किसी तरह बनना चाहता हैं|

ईश्वर ने उसे जैसा बनाया उसमें खुश रहने की वजहाय! वो यही सोचता रहता हैं कि हम उसके जैसे सुंदर क्यों नहीं, हमारे पास ये क्यों नहीं, हमारे पास वो क्यों नहीं, उसके पास इतना पैसा कहाँ से आया आदि! हमें भी उसकी तरह बनना हैं बस इन्हीं सब चीजों से अपनी तुलना करता रहता हैं|



“जीवन में कभी किसी से

अपनी तुलना मत कीजिए!!

आप जैसे हैं सर्वश्रेष्ठ हैं,ईश्वर की

हर रचना अपने आप में सर्वोत्तम हैं!! “

किसी ने बहुत अच्छी बात कही हैं कि-

एक समझदार व्यक्ति वही हैं,

जो दूसरे को  देखकर उनकी

विशेषताओ से कुछ सीखता हैं,

उनसे तुलना और ईर्ष्या नहीं करता….

एक बहुत पुरानी कहानी हैं| ध्यान से पढ़िएगा, बहुत मजेदार हैं|

एक कौवा(Crow) था और कौवे(Crow) को तकलीफ क्या थी, क्या आप जानते हैं?

कौवे(Crow) का रंग क्या होता हैं?



काला,

तो कौवा(Crow) काला था, यही कौवे की तकलीफ थी|

वहीं उस कौवे(Crow) के पास से एक साधु बाबा निकल रहे थे, निकलते समय साधु बाबा के गाल पर एक पानी का मोती टपका,तो साधु बाबा ने चेहरा ऊपर करके देखा तो उन्हें एक रोता हुआ कौवा(Crow) दिखाई दिया|

साधु बाबा ने उस कौवे से पूछा कि तुम क्यों रो रहे हो?

तो कौवे ने बोला रोऊँ नहीं तो क्या करूँ,भगवान ने ये जीवन दिया| काला बनाया मुझे, ये कोई रंग हैं ये….

साधु बाबा ने बोला खुश नहीं हैं?

बिल्कुल खुश नहीं हूँ|



साधु ने बोला क्या तकलीफ हैं?

कौवा(Crow) बोला तकलीफ ही तकलीफ हैं,जिसके घर पे बैठों काँव-काँव करो, लोग उसे उड़ाएं,कोई पालता हैं हमें कभी आज तक आपने देखा हैं किसी ने कौवे को पालकर उसको खाना खिलाया हो

हाँ बस!

श्राद्ध पर मैं काम आता हूँ| झूठा खिलाते हैं लोग मुझको और पता नहीं मुझे भगवान ने ये क्या बनाया|

तो इस पर साधु ने बोला क्या बनना चाहता हैं, अगर दोबारा मौका मिले बनाता हूँ आज चल……

उस कौवे(Crow) ने बोला कि अगर जिंदगी में दोबारा कुछ बनने का  मौका मिलेगा तो मैं हंस(Swan) बनना पसंद करूंगा|

क्या जबरदस्त सफेद रंग, शांति का प्रतीक वाह….

साधु ने बोला आज बनाया तुझे (Swan)हंस लेकिन तुझे एक वादा हैं| पहले जाकर एक बार हंस(Swan) से  मिल आ!

अब कौवे भागा-भागा हंस के पास गया|



हंस भाई क्या मस्त रहता हैं न तू, क्या रंग तुझे भगवान ने दिया….

पानी में पैडल मारता किसी को पता भी नहीं चलता कि तू चल रहा हैं,क्या सफ़ेद-सफ़ेद रंग, अपने को देख काला,कितना खुश रहता होगा न  तू?

(Swan)हंस बोला कौन बोला तुमको….

मै बिल्कुल भी खुश नहीं हैं|

कौवा(Crow) बोला कि तुझको क्या तकलीफ हैं?

(Swan)हंस ने जवाब दिया ये कोई रंग हैं, “सफ़ेद रंग” मौत के बाद का ये रंग हैं|

लोग तस्वीर खींचते हैं पानी में मेरी पता ही नहीं चलता पानी की खींच रहे हैं,या मेरी खींच रहे हैं सफ़ेद में सफ़ेद मिल जाता हूँ, फोटो में आता ही नहीं हूँ किसी की तो मैं………

यह कोई रंग हैं……..

कौवे(Crow) ने बोला खुश नहीं हो?



(Swan)हंस कहा “नहीं”|

दोनों साथ में बाबा के पास आये और बोले मामला गड़बड़ हैं|

तो बाबा ने (Swan)हंस से पूछा-तेरे हिसाब से तुझे क्या बनना हैं?

हंस(Swan) ने उत्तर दिया-

बाबा एक मौका दे दो बनने का उसने पूछा क्या बनना चाहता हैं हंस ने कहा तोता(Parrot) बना दो बस……….

क्या चोंच,क्या रंग लोग पालते हैं,उसको मिठठू मिठठू बुलाते हैं|

अरे! बना दो प्रभु एक बार बाबा ने बोला बनाया,लेकिन एक शर्त हैं जा कर एक बार मिल आओ तोते से…….

अब ये दोनों  भागे-भागे (तोते)Parrot के पास गए|

अब एक जंगल में एक पेड़ पे बहुत सारे तोते(Parrots) रहते थे|

कौवे और हंस बहुत देर जंगल में चार चक्कर लगाते रहे और तोते को ढूँढ़ते रहे|

Finally तोता मिला|

तोता भाई क्या मस्त जिंदगी रहता हैं|

अरे मिठठू मियाँ क्या मस्त जिंदगी हैं तेरा कितना खुश रहता हैं|

क्या लाल-लाल सुर्ख तेरी चोंच

आ हा हा……!

क्या तेरा जिस्म,क्या तेरा पर लोग तुझे पालते हैं तुझे क्या क्या नहीं खिलाते हैं तेरे को तो लोग बादाम तक खिलाते हैं,ऐसे बहुत सी चीजें  उसको बताई|

तोता(Parrot) बोला कौन बोला तुमको……



बोले तू भी खुश नहीं हैं?

तोता(Parrot) बिल्कुल नहीं यार…..!

बोला क्या तकलीफ ये हैं बता?

तोते(Parrot) ने उत्तर दिया बेटा तकलीफ यह हैं “कि तुम चार चक्कर लगा गए हरे में हरा तुमको दिखता नहीं था मैं”…..

यह कोई रंग हैं पेड़ में मिल जाता हूँ|

तो अब ये तीनों आए बाबा के पास और बाबा बोले हाँ भाई तोते(Parrot)  तुम भी बता तुमको एक मौका मिले तो तुम क्या बनना पसंद करोगे?

तोते(Parrot) ने बोला महाराज एक मौका दे दो बस

वो बना दो बस……

क्या बनना चाहते हो?

तोते ने बोला “मोर”(Peacock)

क्या National Bird हैं हमारा

देखने में क्या मस्त हैं|

बाबा ने बोला तीनों को बनाता हूँ अभी लेकिन शर्त मेरी वही हैं जा कर  एक-बार मोर(Peacock) से मिलकर आओ|

अब तीनो भागे-भागे गए मोर(Peacock) को ढूंढ़ने और मोर(Peacock) के पास जाकर बोले मोर क्या मस्त जिंदगी हैं तेरी,तेरे पंख जब खुलते हैं बाबू लोग इंतजार करते हैं उसका तस्वीरें खींचते हैं|

नेशनल बर्ड (National Bird) हैं तू,तेरे नाचने के इंतजार में जब घटा बरसती हैं और जब तू नाचता हैं, लोग तेरे नृत्य के दीवाने हैं|

पढ़ाया जाता हैं तू Classes के अंदर बच्चे तेरे ऊपर निबंध लिखते है |

कभी खुदा करे मौका मिले तो हम भी तेरे जैसा न बन जाएं|



बड़ा खुश रहता होगा तू….

मोर(Peacock) बोला कौन बोला तुमको रे….. !

उन तीनों के बोला तेरे को भी तकलीफ हैं?

मोर(Peacock) ने कहा बहुत तकलीफ हैं|

उन्होंने कहा तुझको क्या तकलीफ हैं?

मोर(Peacock) ने बोला ध्यान से एक आवाज सुनो!

कुछ आवाजें आ रही थी……  

उन तीनों ने कहा आवाज आ रही हैं क्या हैं ये!

मोर(Peacock)  ने कहा और ध्यान से सुनो आवाज पास आ रही हैं

हाँ क्या हैं ये!

मोर(Peacock) ने बोला शिकारी हैं,माँ को मार डाला एक एक पंख नोचा गया हैं उसके जिस्म से और ये पूरे शहर में पूरे देश में बेचा जायेगा| लोग अपने घरों में लगाएंगे,कोई जीवन हैं ये!!

क्यों बनना हैं मोर?

उन तीनों ने बोला खुश नहीं हो?

मोर(Peacock) ने कहा ‘अगले एक घंटे का पता नहीं क्या हो जाएँ मेरे साथ  तो कैसे खुश रहूँ”!

उन्होंने बोला तेरे हिसाब से क्या बनना चाहिए और कौन सबसे खुश हैं?

तो कौवे(Crow) को मोर(Peacock) ने बोला तू..!!

तो कौवे(Crow) ने बोला मैं कैसे?

तो मोर का जवाब ध्यान से सुनिए|

मोर(Peacock) ने कौवे का कहा तूने मटन बिरयानी सुनी?



कौवे ने बोला हाँ….

मोर ने फिर कहा चिकन बिरयानी सुनी हैं?

कौवे ने बोला  हाँ…

मोर ने कहा कौवा बिरयानी सुनी?

कौवे ने  बोला नहीं…

मोर ने बोला तुझे जान का खतरा हैं!

बोला नहीं…..

कोई तुझे मरेगा?

नहीं……

तुझे किसी से तकलीफ?

बोला नहीं….



मस्त जी रहा हैं फिर भी, हमें तो अगले घंटे का पता नहीं तो तुझसे बढ़िया कौन?

तो आप जो हैं जिस अवस्था में जिस रंग के साथ हैं मस्त हैं यार

किसी से अपनी तुलना मत करो…

तुम्हारे जैसा आदमी भगवान ने किसी को नहीं बनाया

आप जैसे हो बहुत अलग हो यार!

“You Are Unique”

Dont Compare Yourself……

कभी भी जिंदगी में किसी से तुलना मत करना Comparison में बहुत बड़ी तकलीफ होती हैं|

आप अपनी तुलना  किसी से भी न करें…..

अगर आप ऐसा करते हैं,

तो आप खुद की ही बेइज्जती कर रहे हो..

Friends आपको हमारा ये Article कैसा लगा, Please हमें Comment के Through जरूर बताए और इसे Like और share करना ना भूलें|

Thank For Reading
Sanjana


यह भी पढ़े –

1.
2.
3.
4.
5.

हमारे अन्य ब्लॉग भी पढ़े –

Facebook     Twitter    Instagram

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *