किसी के बिना किसी का काम नहीं रुकता| Best Motivational Story in Hindi.

Best Motivational Story success

ज़िन्दगी कभी किसी के आने या जाने से रूकती नहीं हैं, बस कभी कभी धीमी या तेज हो जाती हैं
A Best Motivational Story in Hindi.


आज के समय में सभी बिना मेहनत किये हुए अपने जीवन में सफल (Success) होना चाहते हैं| कुछ लोगों को बहुत ही घमंड होता हैं कि उनके बिना ये काम नहीं हो सकता हैं या बिना उस इंसान के परिवार वाले लोग रह नहीं सकते हैं|Best Motivational Story success

इस बात में जरा भी सच्चाई नहीं हैं तो आज हम आपको इस बात से रूबरू कराना चाहते हैं,एक छोटी-सी प्रेरक कहानी (Motivational story) से जिसका नाम हैं-किसी का काम किसी के बिना नहीं रुकता| 

एक बार की बात थी- एक परिवार में 6 सदस्य थे,लेकिन उस परिवार में कमाने वाला मात्र एक ही व्यक्ति था और उस व्यक्ति को इस बात का बहुत ही घमंड था कि उसके बिना इस परिवार का गुजारा नहीं हो सकता|

एक दिन उस व्यक्ति के गांव में एक महात्मा आए और वह व्यक्ति भी उस महात्मा की बातों को सुनने के लिए चला गया| वह महात्मा सभी को बता रहे थे कि इस दुनिया में किसी का काम किसी के बिना नहीं रुकता|

लेकिन फिर भी कुछ लोग अभिमान करते हैं की बिना उनके परिवार और समाज रुक जायेगा| भगवान सभी को उनके अनुसार का भाग्य देता हैं| महात्मा की बात ख़त्म होने के बाद सभी लोग वहाँ से चले गए| लेकिन वह व्यक्ति महात्मा के पास जाकर बोला-मैं अपने घर में कमाने वाला मात्र अकेला ही व्यक्ति हूँ|

मैं जो कमाकर लाता हूँ,उसी से मेरे परिवार का गुजारा होता हैं| अगर मैं ही नहीं रहूंगा तो मेरा घर कैसे चलेगा| महात्मा ने कहा-तुम बहुत ही गलत सोचते हो| इस दुनिया में मौजूद हर इंसान को उसके भाग्य के अनुसार ही फल मिलता हैं| यह सुनकर वह व्यक्ति बोला-मैं इस बात को नहीं मानता|

उस महात्मा ने कहा-तुम ऐसा करो बिना किसी को बताए,कुछ दिन के लिए गायब हो जाओ,और फिर तुम अपने आप ही देख लेना की तुम्हारे बिना कोई काम रुकता हैं या नहीं| उस व्यक्ति ने ऐसा किया और वह कुछ दिन के लिए शहर चला गया|   

उसके जाने के बाद उस महात्मा ने गांव में बात फैला दी कि उस व्यक्ति को शेर ने अपना शिकार बना लिया| जब पूरे गांव में यह बात फ़ैल गयी तो उस परिवार की मदद के लिए गांव के लोग आगे आए|

उस व्यक्ति का एक भाई था जिसे गांव के सेठ ने अपने घर में काम पर रख लिया और उसकी एक बहन भी थी सभी गाओं वालों ने मिलकर उसकी शादी एक अच्छे घर में करा दी| कुछ दिन बाद सब कुछ पहले जैसा ही गया और सभी अपना जीवन बहुत ही ख़ुशी से व्यतीत करने लगे|

एक रात को चुपके से वह व्यक्ति अपने घर पहुँचा,उसने देखा की सभी लोग उसके बिना भी बहुत खुश थे और अपना जीवन सुखी से जी रहे थे|

उस व्यक्ति ने अपने परिवार से माफ़ी मांगी,और कहा कि मैं बहुत ही गलत था| आज मेरा घमंड चूर-चूर हो गया|

तो दोस्तों हम इस कहानी से आपको यही बताना चाहते हैं कि अगर एक रास्ता बंद होता हैं तो हजारों रास्ते खुलते भी हैं|

इसीलिए हमें अपने घमंड के साथ जीना छोड़ देना चाहिए कि किसी के बिना किसी का काम नहीं रुकता|  

यह भी पढ़े –

1.
2.
3.
4.
5.

हमारे अन्य ब्लॉग भी पढ़े –

Facebook     Twitter    Instagram

One thought on “किसी के बिना किसी का काम नहीं रुकता| Best Motivational Story in Hindi.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *